Advertisement

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ की वर्चुअल मीटिंग


देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार 17 जून को प्रदेश के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की। वर्चुअल मीटिंग में केंद्रीय मंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा कई अन्य मुख्यमंत्री भी शामिल हुये। ये मीटिंग चीन द्वारा गलवान वैली किए गए आक्रमण पर रणनीति बनाने के लिए रखी गई जिसमें भारत की अखंडता एवं संप्रभुता को लेकर भी बात हुई।

Advertisement

प्रधान मंत्री ने देश के एक एक इंच जमीन की रक्षा करने को कहा

प्रधान मंत्री ने शहीदों के बारे में सम्वेदना व्यक्त करते हुए कहा कि पूरा देश आपके साथ है, देश की भावनाएं आपके साथ हैं। उन्होंने कहा कि स्थिति कुछ भी हो, परिस्थिति कुछ भी हो लेकिन भारत पूरी दृढ़ता से देश की एक-एक इंच जमीन की, देश के स्वाभिमान की रक्षा करेगा। भारत साँस्कृतिक रूप से शांतिप्रिय देश है, हमारा इतिहास शांति का रहा है। हम कभी भी किसी को उकसाते नहीं हैं लेकिन हम अपने देश की अखंडता और संप्रभुता के साथ समझौता भी नहीं करते। जब भी समय आया है हमनें देश की अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने के लिए अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन को लेकर कहा

नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को भरोसा दिलाते हुए कहा, हमारे जवानों का वलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। हमारे लिए देश की अखंडता और संप्रभुता सर्वोच्च है और इसकी रक्षा करने से हमें कोई भी रोक नहीं सकता।

प्राइम मिनिस्टर ने चीन की तरफ इशारा करते हुए कहा, इस बारे में किसी को जरा भी भ्रम या संदेह नहीं होना चाहिए। भारत शांति चाहता है लेकिन भारत को उकसाने पर भारत हर हाल में जबाव देने में सक्षम है।

Advertisement

प्राइम मिनिस्टर ने मौन रख कर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

उन्होंने आगे कहा कि हमारे दिवंगत, शहीद वीर जवानों के विषय में देश को इस बात का गर्व होगा कि वे मारते मारते शहीद हुए हैं। वर्चुअल मीटिंग में उपस्थित सभी मुख्यमंत्रियों सहित नरेंद्र मोदी ने 2 मिनट का मौन धारण कर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।