Home Blog Page 2

पीठ पीछे वार किए जाने पर Kangana Ranaut ने ट्वीट कर दिया मुँहतोड़ जबाब

0
Kangana Ranaut with Gold Necklace

मुंबई के पाली हिल में स्थित कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के ऑफिस पर BMC के द्वारा निर्देश दिए जाने पर JCB से तोड़फोड़ की गई। BMC की कार्रवाही के बाद कंगना रनौत ने एक बार फिर महाराष्ट्र सरकार पर Tweet कर हमला बोला है। बुधवार को कंगना रनौत सोशल मीडिया पर महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ लगातार एक के बाद एक ट्वीट कर रही थीं। एक ट्वीट कर उन्होंने कहा कि ‘मुझ पर वार भी हुआ तो पीठ पीछे जब मैं फ्लाइट में थी, सामने नोटिस देने की या वार करने की हिम्मत नहीं है, यह जानकर अच्छा लगा’

Source: Twitter

कंगना रनौत का विरोधियों को जवाब


Kangana Ranaut लगातार अपने विरोधियों को Tweet द्वारा जवाब दें रही हैं और साथ ही उनको सपोर्ट करने वाले लोगों के लिए धन्यवाद भी दे रही हैं। अपने एक ट्वीट में कंगना ने लिखा, ‘मैं अपनी मुंबई में हूं, अपने घर में हूं, मुझ पर वार भी हुआ तो पीठ पीछे जब मैं फ्लाइट में थी, सामने नोटिस देने की या वार करने की हिम्मत नहीं है मेरे दुश्मनों में, ये जानकर अच्छा लगा। बहुत लोग मुझे पहुंचाई हुई हानि से दुखी और चिंतित हैं, मैं उनके आशीर्वाद और स्नेह की आभारी हूं।’

राजनेताओं से कंगना की जुबानी जंग


सोशल मीडिया पर कंगना रनौत और महाराष्ट्र के कुछ राजनेताओं के बीच छिड़ी जुबानी जंग के बाद से कंगना अन्य मुसीबत में भी फंस गई हैं। अबकी बार कंगना प्रशासन के चंगुल में बुरी तरह फंसी दिख रही हैं। बता दें कि BMC ने बुधवार को कंगना के बांद्रा स्थित ऑफिस में तोड़फोड़ की। BMC एच वेस्ट वार्ड के अधिकारियों की एक टीम पुलिस के साथ बुलडोजर, जेसीबी और अन्य भारी मशीन लेकर कंगना रनौत के ऑफिस पहुंचीं और बाहर से तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया।

Vodafone Idea के CEO को तीन साल वेतन नहीं मिलेगा, जानें क्या है वजह

0
Vodafone - Idea

Vodafone Idea Limited में लागत कटौती होने की संभावना दिखाई दे रही है। कंपनी के एक प्रस्ताव के अनुसार उसके प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) राजीव ठक्कर को उनके मौजूदा तीन बर्ष के कार्यकाल के लिए कोई पारिश्रमिक (वेतन) नहीं दिया जाएगा।

Vodafone Idea (VI) की 25वीं सालाना आम बैठक 30 सितंबर को होनी है। बैठक में कंपनी राजीव ठक्कर की नियुक्ति एवं अन्य प्रस्तावों पर शेयरधारकों (Share Holder) की मंजूरी मांग सकती है । तब संभावना है कि इस प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी जाए । कंपनी ने अपनी वार्षिक आम सभा की सूचना में बताया है कि वोडाफोन आइडिया ठक्कर द्वारा कंपनी के काम के चलते होने वाले खर्चे पर भी वहन कर सकती है।

Vodafone Idea Limited CEO

Vodafone Idea ने ठक्कर को बलेश शर्मा के इस्तीफे के बाद ठक्कर को 3 बर्ष के लिए अपना प्रबंध निदेशक एवं CEO नियुक्त किया था। उनका कार्यकाल 19 अगस्त 2019 से प्रभावी है और उन्हें उनके कार्यकाल के लिए ‘जीरो पारिश्रमिक (वेतन) दिया जाएगा। राजीव ठक्कर से पहले बलेश शर्मा को कंपनी ने सालाना 8.59 करोड़ रुपये का पैकेज दिया था। हालांकि उनके वेतन में 2019-20 के लिए किसी भी तरह की बढ़ोत्तरी नहीं की गई थी। ठक्कर के नियुक्ति की शर्तों में कहा गया है कि Vodafone Idea Limited कंपनी के काम से किए जाने वाले उनके रहने-खाने, मनोरंजन, यात्रा एवं अन्य खर्चे कंपनी की नीति के अनुरूप उठा सकती है।

ठक्कर को निदेशक मंडल अथवा समिति की बैठकों में शामिल होने के लिए किसी तरह का कोई शुल्क नहीं दिया जाएगा। इसी के साथ कंपनी अपनी ऋण सीमा को 25 हजार करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1 लाख करोड़ रुपये करने का प्रस्ताव भी बैठक में रख सकती है । निजी क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी घाटे में है एवं भारी वित्तीय संकट से गुजर रही है।

सरकार द्वारा किए गए दावे के मुताबिक कंपनी को समायोजित सकल आय (एजीआर) बकाये के रूप में 58,250 करोड़ रुपये का भुगतान करना है। अभी तक कंपनी इसमें से 7,854 करोड़ रुपये का ही भुगतान कर पाई है। इसी के साथ कंपनी के उपयोक्ताओं की संख्या भी लगातार घटती जा रही है। अगस्त 2018 में वोडाफोन एवं आइडिया के विलय के समय दोनों के मिलाकर 43 करोड़ के करीब उपभोक्ता थे। जो अब यह घटकर केवल 30.9 करोड़ ही रह गए हैं।

अब Google बताएगा कौन कर रहा है कॉल, Verified Calls करेगा TrueCaller की ‘छुट्टी’

0
Verified Calls by Google Badge

सर्च इंजन कंपनी गूगल ने हाल ही में वेरिफाइड कॉल्स (Verified Calls) नाम से एक फीचर अनाउंस किया है और इसे Google Phone ऐप का हिस्सा बनाया गया है। गूगल का यह नया फीचर यूजर्स को बताएगा कि कॉल करने वाला कौन है, कॉल करने की वजह क्या है और कॉलर का लोगो (Logo) भी दिखाएगा। नया फीचर लाने के पीछे बड़ी वजह फोन कॉल फ्रॉड्स पर लगाम कसना भी है। यह फीचर TrueCaller जैसी ऐप्स को सीधी टक्कर दे सकता है।

भारत समेत दुनियाभर में फ्रॉड कॉल्स प्रॉब्लम्स तेजी से बढ़ती जा रही है और वेरिफाइड कॉल्स फीचर रोलआउट करने के साथ ही यूजर्स को ऐसी फ्रॉड कॉल्स से बचाया जा सकेगा। किसी तरह के बिजनस कॉल की स्थित में यूजर को दिख जाएगा कि कौन कॉल कर रहा है और क्यों कर रहा है। इसके अलावा बिजनस का वेरिफाइड बैज (Verified Badge) भी गूगल की ओर से वेरिफाइ किए गए नंबर पर दिखाई पड़ेगा । यह फीचर भारत, ब्राजील, मेक्सिको, स्पेन और यूएस समेत दुनियाभर में रोलआउट किया जा रहा है।

Verified Calls by Google

TrueCaller जैसी ऐप्स की जरूरत नहीं

फिलहाल TrueCaller जैसी ऐप्स भी ऐसा ही फंक्शन यूजर्स को ऑफर करती हैं और Google Phone ऐप में इस फीचर के आ जाने से यह फंक्शन ढेरों यूजर्स के डिवाइस का हिस्सा बन जाएगा। इसका मतलब कि अलग से ऐसी कोई ऐप डाउनलोड करने की जरूरत नहीं होगी और गूगल Verified Calls ही TrueCaller जैसी ऐप का काम कर देगा। एक ब्लॉग पोस्ट में गूगल ने यह भी लिखा है कि पायलट प्रोग्राम के शुरुआती रिजल्ट्स बहुत अच्छे रहे हैं और यूजर्स को इसका फायदा जरूर मिलेगा।

Google Phone में नया फंक्शन

गूगल की पिक्सल सीरीज के डिवाइसेज के अलावा और भी ढेरों ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में बाय डिफॉल्ट Google Phone ऐप ही डायलर का काम करता है। इन सभी फोन्स में नया फीचर अगले अपडेट्स के साथ दे दिया जाएगा। अगर आपके फोन में Google Phone ऐप इंस्टॉल नहीं है तो गूगल प्ले स्टोर से भी इसे इंस्टॉल कर सकते हैं । गूगल का नया फीचर यूजर्स को यह भी बताएगा कि उन्हें बिजनस कॉल किए जाने के पीछे कारण क्या है, जो फीचर अब तक TrueCaller जैसी ऐप्स में मौजूद नहीं है।

Vodafone Idea अब हुआ Vi, जानिए नए नाम के साथ नए बदलाव

0
vodafone-idea Changed name as Vi and also Change Website Domain

वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने अपने नए नाम Vodafone Idea (VI) की घोषणा कर दी है। साथ ही कंपनी ने अपनी पंचलाइन को भी बदल दिया है, अब टूगेदर फॉर टुमौरो (Together For Tomorrow) नयी पंचलाइन तय की गई है। बता दें कि बर्ष 2018 में वोडाफोन और आइडिया का विलय हुआ था और तब से एक कंपनी होने के बावजूद वोडाफोन और आइडिया के अलग-अलग नाम से कारोबार चलाया जा रहा था। तो आइए जानते हैं नाम बदलने के अलावा प्लान और कस्टमर केयर नंबर आदि में कोई बदलाव हुआ है या नहीं…

VI is here - Vodafone Idea
Source: Vodafone India

नाम बदलने के साथ ही वोडाफोन आइडिया और आइडिया की वेबसाइट के डोमेन को भी बदल कर अब https://www.myvi.in/ कर दिया गया है। अब दोनों कंपनियों की वेबसाइट एक ही होगी, इस बात पर कंपनी ने कन्फर्म की मुहर लगा दी है।

Experience all new VI app - Vodafone Idea
Source: Vodafone India

कंपनी ने नाम बदलने के बाद अभी तक प्लान आदि को लेकर कुछ खास बदलाव नहीं किए हैं। अब यदि आप वोडाफोन या आइडिया का कोई रिचार्ज करना चाहते हैं तो आपको https://www.myvi.in/ पर विजिट करना होगा या फिर गूगल प्ले-स्टोर या एपल एप स्टोर से myvi एप इंस्टॉल करना होगा, हालांकि नए नाम से यह एप फिलहाल अभी स्टोर पर मौजूद नहीं है।

Happy Surprises Everyday - Vodafone Idea
Source: Vodafone India

अगर सिम के नाम और नंबर की बात करें तो कोई बदलाव नहीं किए गए हैं। इसके अलावा अभी तक जो सुविधाएं आपको माय वोडाफोन एप में मिल रही थीं, वो सभी सुविधाएं आपको मायवी एप पर भी मिलेंगी। बैलेंस चेक करने से लेकर रिचार्ज करने तक का काम आप मायवी एप में आसानी से कर सकते हैं।

Vodafone Idea - VI new company Name
Source: Vodafone India

हालांकि प्लान की कीमतों को लेकर अभी तक कोई बदलाव नहीं किए गए हैं, लेकिन कंपनी ने यह जरूर कहा है कि टैरिफ प्लान की कीमतों में बढ़ोतरी करना जरूरी है। आइडिया और वोडाफोन दोनों के ग्राहक अब 9654297000 (व्हाट्सएप) और 198 पर कस्टमर केयर और [email protected] से जुड़ सकते हैं। इसके अलावा अलग-अलग सर्किल के लिए अलग-अलग कस्टमर केयर नंबर्स उपलब्ध हैं जिन्हें आप वोडाफोन आइडिया की नई वेबसाइट https://www.myvi.in/help-support/vi-customer-care-number से प्राप्त कर सकते हैं।

बदल गया Vodafone idea का नाम अब Vi के नए नाम से जानी जाएगी कंपनी

0
Vi Logo - Vodafone Idea

Vodafone Idea:विलय के करीब दो साल बाद वोडाफोन आइडिया कंपनी ने अपने नए नाम की घोषणा कर दी है। Vodafone Idea नाम से पहले अक्षर को लेकर अब vi के नाम से जाना जाएगा। वी आई का पूरा नाम वोडाफोन आइडिया लिमिटेड होगा। बता दें कि साल 2018 के अगस्त में वोडाफोन और आइडिया का विलय हुआ था लेकिन विलय के बाद से अभी तक दोनों कंपनियों को उनके नाम से ही चलाया जा रहा था।

Vodafone Idea is now VI
Source: Vodafone India

नए नाम के ऐलान को लेकर कंपनी के सीईओ रविन्द्र ताक्कर ने कहा, ‘दो ब्रांडों का एकीकरण दुनिया में सबसे बड़े दूरसंचार एकीकरण की परिणति है। उन्होंने कहा, यह एक नई शुरुआत का समय है’। इस ऐलान से ठीक पहले वोडाफोन आइडिया के शेयर में 10 फीसदी का इजाफा देखने को मिला । नए नाम के ऐलान के साथ कंपनी ने अपने टैरिफ प्लान में कोई बदलाव नहीं किए हैं लेकिन कीमतें बढ़ाने को लेकर इशारा जरूर दिया है। 

बता दें कि हाल ही में Vodafone Idea Limited को बड़ी राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने समायोजित सकल आय (एजीआर) के बकाये को चुकाने के लिए दस साल का समय दिया है। कोर्ट के आदेश के अनुसार एजीआर का 10 पर्सेंट कंपनी को चालू वित्त वर्ष में और शेष का भुगतान 10 किस्तों में अगले 10 वर्ष में करना होगा। बता दें कि वोडाफोन आइडिया पर 58 हज़ार करोड़ रुपये से अधिक का एजीआर बकाया है। इसमें से कंपनी ने 7,854 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है।

वोडाफोन-आईडिया ने लॉन्च किए धमाकेदार प्लान, कम पैसे खर्च कर उठाए बड़ा फायदा

0
Vodafone - Idea

कोरोना काल में लॉकडाउन के चलते इंटनेट का यूज काफी हद तक बढ़ गया था, जिसकी वजह लोगों का घरों में कैद होना था। टेलीकॉम कंपनियों ने भी ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए नए-नए प्लान्स पेश किये, जिससे उनकी बिक्री बढ़ी। टेलीकॉम कंपनियों ने अब फिर यूजर्स को खुश करने व सेल बढ़ाने के लिए कुछ नए प्लान लॉन्च किेए हैं। आईडिया (Idea) और वोडाफोन (Vodafone) ने अपने तीन सस्ते और शानदार प्रीपेड प्लान लॉन्च किए हैं, जिसमें कंपनी 46, 109 और 169 रुपये के प्लान लेकर आई है। ये तीनों प्लान बीस दिन के लिए होंगे, कस्टमर्स को इसमें अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा भी मिलेगी।

वोडाफोन और आईडिया दे रहा बेहतरीन ऑफर

वोडाफोन आईडिया ने अपने 109 रुपये वाले प्रीपेड प्लान में 20 दिन की वैधता प्रदान की है। इस प्लान में आपको अनलिमिडेट वॉयस कॉलिंग की सुविधा के साथ ही 1 जीबी डाटा मिलता है। इस प्लान में आपको 300 एसएमएस भी फ्री दिए जाएंगे। इस प्लान के साथ आपको Zee5 का सब्सक्रिप्शन और वोडाफोन Play ऐप का एक्सेस ऑफर भी दिया जाएगा । वहीं बात करें 169 रुपये वाले प्रीपेड प्लान की तो इसमें भी आपको 20 दिन की वैधता और अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा मिलेगी। इस प्लान में आपको प्रतिदिन 1GB डाटा और रोज 100 एसएमएस की सुविधा भी दी जा रही है। ऑफर में Vodafone Play और Zee5 का सब्सक्रिप्शन भी शामिल है।

कंपनी ने एक 46 रुपये का प्रीपेड प्लान भी लॉन्च किया है जिसमें आपको लोकल ऑन नेट यानि वोडाफोन से वोडाफोन पर कॉलिंग के लिए 100 नाइट मिनट मिलते हैं। जिसकी वैलेडिटी 28 दिनों की है। साथ ही यह रिचार्ज लोकल और नेशनल कॉलिंग .25 पैसे पर सेकेंड में प्रदान करता है। इस प्लान को एक्टिवेट करने वाले यूजर्स को फ्री नाइट मिनट रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक मिलेंगे। कंपनी की ओर से अभी ये प्लान सिर्फ दिल्ली सर्कल के लिए जारी किए गए हैं। इससे पहले 46 रुपये वाले प्लान को केरल सर्कल में भी लॉन्च किया गया था।

क्या आप WhatsApp में Private Chat को छिपाना चाहते हैं? ऐसे छिपाएं (Hide) चैट

0
whatsapp number accessible Google search in plain text

पिछले कुछ सालों से लोगों में व्हाट्सऐप का क्रेज काफी तेजी से बढ़ रहा है। Whatsapp आने के बाद तो लोग सिंपल मैसेज करना तो जैसे करना ही भूल ही गए हैं। टेक्स्ट चैटिंग से लेकर फोटो, वीडियो, कॉलिंग हर काम WhatsApp के जरिए ही कर रहे हैं। ऐसे में कई बार आप कई जरूरी इनफॉर्मेशन या ऑफिस के काम की बातें (Personal or Private Chat) भी आप व्हाट्सऐस चैट में करते होंगे। इसके अलावा कई बार हम अपनी कुछ पर्सनल चैट को दूसरों से छिपाकर रखना चाहते हैं।

Whatsapp Hide Private Chat

हमें डर रहता है कि कहीं कोई हमारी प्राइवेट चैट न पढ़ ले, लेकिन अब आपको घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। आप अपने सीक्रेट मैसेज बड़ी ही आसानी से छिपा सकते हैं। आपके व्हाट्सऐप में ही ऐसा ही एक फीचर है जिससे आपकी चैट कोई दूसरा व्यक्ति नहीं पढ़ सकता। असल में व्हाट्सएप के कई ऐसे फीचर हैं जिनके बारे में बहुत ही कम लोगों को जानकारी है। कंपनी की ओर से आपकी प्राइवेसी और सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए समय-समय पर कई ऐसे फीचर्स जोड़े जाते हैं जिससे आपका डेटा अधिक सुरक्षित रहे। आइये जानते हैं क्या है वो खास फीचर और आप उसे अपने फोन में कैसे एक्टिव कर सकते हैं।

आईफोन में कैसे छिपाएं व्हाट्सऐप चैट?

सबसे पहले आप अपने व्हाट्सऐप की चैट में चले जाएं। अब आप जिस चैट को छिपाना चाहते हैं उस पर राइट स्वाइप करें। इसके बाद एक आर्काइव का ऑप्शन नज़र आएगा। आर्काइन पर क्लिक करते ही आपकी चैट छिप जाएगी।

एंड्रॉएड में कैसे छिपाएं व्हाट्सऐप चैट?

अगर आप एंड्रॉएड फोन यूजर हैं और अपनी व्हाट्सऐप चैट को छिपाना (Hide) चाहते हैं तो सबसे पहले आप अपनी व्हाट्सऐप चैट में जाएं। फिर चैट पर थोड़ी देर तक प्रेस करके रखें। अब आपको ऊपर में कई ऑप्शन दिखाई देंगे। यहां आपको एक आर्काइव का ऑपशन भी दिखाई देगा। आपको उस पर क्लिक करना है। आर्काइव के बाद आपकी चैट छिप जाएगी।

ऐसे करें आर्काइव चैट को अनआर्काइव

अगर आपने एक बार किसी चैट को आर्काइव कर रखा है और आप वापस उस नॉर्मल करना चाहते हैं तो कर सकते हैं। आर्काइव होने के बाद ये चैट एक अलग बने फोल्डर में सबसे नीचे चली जाती हैं। इसे आप कॉन्टेक्ट नाम सर्च करने के बाद ओपन कर सकते हैं। अगर इसे फिर से नॉर्मल चैट बॉक्स में लाना चाहते हैं तो उसी चैट पर फिर से क्लिक करके उसे अनआर्काइव कर सकते हैं।

Google ने हटाए 6 खतरनाक ऐप्स, आपके फोन में हैं मौजूद तो तुरंत करें Uninstall

0
Google play store App Removel Updade

नई दिल्लीः गूगल (Google) ने एक बार फिर से अपने Play Store में मौजूद 6 खतरनाक ऐप्स को हटा दिया है, जिनको अगर किसी ने भी अपने फोन में इंस्टॉल कर रखा है तो फिर ये काफी बड़ा खतरा साबित हो सकता था। इन ऐप्स को लगभग दो लाख से अधिक लोगों ने अपने फोन में इंस्टॉल कर रखा था। अगर आप भी ऐसे लोगों में शामिल हैं जिन्होंने इस ऐप्स को इंस्टॉल कर रखा है, तो फिर उनको अपने फोन से तुरंत अनइंस्टॉल कर लें।

इन ऐप्स को हटाया

साइबर सिक्यॉरिटी फर्म Pradeo की रिपोर्ट के अनुसार, इन 6 ऐप्स में सेफ्टी ऐपलॉक (Safety Applock), कनवीनियन्ट स्कैनर 2 (Convimemt Scanner 2), इमोजी वॉलपेपर (Emogy Wallpaper), पुश मेसेज- टेक्सटिंग एंड एसएमएस (Push Message- Texting and SMS), सैपरेट डॉक स्कैनर (Seperate Doc Scanner) और फिंगरटिप गेमबॉक्स (Fingertip Gamebox) शामिल हैं, जो जोकर मैलवेयर से संक्रमित थे।

Google Removed 6 apps from play store

बिना जानकारी के ही हो जाते हैं सब्सक्राइब 

Joker Malware डिवाइस में आ जाने के बाद यूजर्स को प्रीमियम सर्विस के लिए बिना जानकारी के ही सब्सक्राइब कर देते हैं। बता दें कि 2017 से गूगल ने प्ले स्टोर से ऐसे ही 1700 ऐप्स हटाए हैं जो जोकर मैलवेयर से संक्रमित थे।

सरकार ने बैन किए थे पबजी समेत 118 ऐप्स

भारत सरकार ने चीनी मोबाइल ऐप (Chinese mobile Apps) पर फिर एक बार नकेल कसते हुए 118 ऐप के भारत में इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। इसमें दुनियाभर में पॉपुलर गेमिंग ऐप  PUBG भी शामिल है। इससे पहले भारत सरकार करीब 106 ऐप पर पहले ही प्रतिबंध लगा चुकी है।इसमें पॉपुलर वीडियो ऐप TikTok भी शामिल था।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के आदेश के अनुसार, PUBG के साथ APUS लॉन्चर प्रो, Baidu जैसे ऐप पर रोक लगाई गई है। अब सरकार ने जिन ऐप्प पर रोक लगाई है उनमें WeChat Reading and Tencent Weiyun, awn of Isles, Baidu Express Edition, Tencent Watchlist, FaceU, Chess Rush, Game of Sultans जैसे ऐप्स शामिल हैं.

मंगलवार धरती के करीब से गुजरेगा Asteroid 2011 ES4, वैज्ञानिकों की टिकी निगाह

0
Asteroid 2011 ES4

वाशिंगटन, एएनआइ। पिछले महीने ही एक क्षुद्रग्रह ने पृथ्वी के सबसे करीब से गुजरने का रिकॉर्ड बनाया था। अब एक बार फिर से एक और क्षुद्रग्रह पृथ्वी के पास से गुजरने वाला है। इस बार यह क्षुद्रग्रह चंद्रमा एवं पृथ्वी के बीच की दूरी से भी कम दूरी से एक सितंबर को गुजरने वाला है । अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने यह जानकारी दी है। इस क्षुद्रग्रह का नाम 2011 ईएस3 है। यह भी कहा जा रहा है कि अगले एक दशक तक पृथ्वी के पास से गुजरने वाले क्षुद्रग्रहों में से यह सबसे पास से गुजरेगा।

Nasa Asteroid Tweet
NASA TWEET

आकार 22 से 49 मीटर के बीच

नासा के जेट प्रॉपल्शन लैबोरेटरी के अनुसार, इससे पहले यह क्षुद्रग्रह साल 2011 में 13 मार्च को पृथ्वी के सबसे नजदीक से होकर गुजरा था। इस बार चिंता इस बात को लेकर है कि यह क्षुद्रग्रह धरती से केवल 45,000 मील की दूरी से ही गुजरेगा। इस खगोलीय पिंड का आकार 22 से 49 मीटर के करीब बताया जा रहा है। नासा ने दावा किया है कि पहली सितंबर को यह क्षुद्रग्रह (एस्टेरॉयड) धरती व चांद के बीच से होकर गुजरेगा।

धरती से नहीं टकराएगा

दुनियाभर में लोगों की चिंता इस सवाल को लेकर है कि क्‍या एस्‍टेरॉएड-2001 ईएस4 (Asteroid 2011 ES4) नाम का यह क्षुद्रग्रह धरती से टकराएगा। इस पर नासा एस्‍टेरॉएड वॉच (NASA Asteroid Watch) ने ट्वीट कर बताया कि, Asteroid 2011 ES4 (एस्‍टेरॉएड-2001 ईएस4) धरती से नहीं टकराएगा। हां यह बात जरूर है कि यह धरती के बेहद करीब से गुजरेगा। इसके पृथ्वी से टकराने का कोई खतरा नहीं है।

 

8.16 किलोमीटर प्रति सेकेंड है स्‍पीड

नासा एस्‍टेरॉएड वॉच (NASA Asteroid Watch) ने बताया है कि इस क्षुद्रग्रह की रिलेट‍िव स्‍पीड लगभग 8.16 किलोमीटर प्रति सेकेंड के करीब है। यह पिंड एकबार पहले भी धरती के बेहद करीब से गुजर चुका है। पिछली बार यह धरती से चार दिनों तक लगातार दिखता रहा था। इस बार यह धरती से और भी करीब होगा। धरती से इसकी दूरी लगभग 1.2 लाख किलोमीटर होगी जबकि चांद से वह 3.84 लाख किलोमीटर दूर होगा। यह क्षुद्रग्रह पहली बार वर्ष 2011 में दिखा था और हर 9 साल पर धरती के करीब से गुजरता है।

साल 2011 में की गई थी इसकी खोज

वैज्ञानिकों की मानें तो यह ‘बेहद खतरनाक श्रेणी’ (listed as a potentially hazardous asteroid) का छुद्रग्रह है। इसकी खोज सबसे पहले साल 2011 में की गई थी। हर 9 बर्ष बाद यह धरती के करीब से गुजरता है। नासा के अनुसार, एक बेहद खतरनाक श्रेणी के छुद्रग्रह (potentially hazardous asteroid) का वर्गीकरण उसके धरती से काफी नजदीक से गुजरने के खतरे के आधार पर किया जाता है। हाल ही में एसयूवी ( SUV) के आकार का एक एस्टेरॉयड पृथ्वी के काफी करीब से गुजरा था। 

हिन्दुस्तान के मुशायरों का सबा बड़ा सूरज डूब गया’: राहत इंदौरी की म्रत्यु पर उर्दू कवि अंजुम बाराबंकी

0
Rahat indori
File Photo

जैसा कि साहित्य की दुनिया और अनुयायी मंगलवार को जाने-माने उर्दू कवि राहत इंदौरी की म्रत्यु के बारे में जानने के लिए उतावले हो गए, उनके मित्र और पिछले 40 वर्षों के साथी कवि अंजुम बाराबंकी ने कहा, “हिंदुस्तानी मुशायरे का सबसे बड़ा सूरज डूब गया (सबसे चमकदार सूरज भारतीय मुशायरा निर्धारित किया है)। “

कोविद -19 का इलाज कर रहे 70 वर्षीय इंदोरी की मंगलवार को इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई।

यह पूरे देश के लिए एक बड़ा झटका है, बाराबंकी ने कहा। “वह (इंदौरी) सभी उर्दू कवियों का गौरव था। मैं उनके साथ पिछले 40 वर्षों से जुड़ा हुआ था। मैंने उनके साथ एक दर्शक की भूमिका निभाई, उनकी ग़ज़लों और दोहों को सुना और मंच से उनकी शायरी भी पढ़ी। “वह एक गतिशील कवि थे और मैच्योर थे। भारत ही नहीं, दुनिया भर में उनके अनुयायी और प्रशंसक थे,” उन्होंने कहा।

बाराबंकी ने कहा कि आम लोगों, कवियों, राजनेताओं आदि के बीच, इंदौरी का बहुत बड़ा प्रशंसक आधार था। “चार या पाँच दिन पहले, मैं एक टीवी चैनल पर एक मुशायरा (एक कविता संगोष्ठी) में भाग लेते हुए दिखाई दिया और उसने मुझे फोन किया, और मेरी कविता के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा, ‘आपकी कविता इतनी प्रभावशाली थी, मुझे आपको फोन करना पड़ा। और बधाई। ‘ उन्होंने मुझे यह भी सूचित किया कि वह देर से अस्वस्थ थे। वह रक्तचाप, मधुमेह, किडनी के मुद्दों और इतने पर पीड़ित थे, लेकिन 70 वर्ष की आयु में, कोई अन्य ऐसा नहीं था जो मंच से उनकी तरह दहाड़ता था और यहां तक कि उन्हें लगाया भी था। नौजवानों को शर्म आनी चाहिए, ”बाराबंकी ने कहा। “वह एक बहादुर व्यक्ति था जिसने अपनी गंभीर बीमारियों के बावजूद मृत्यु की आशंका कभी नहीं की। वह एक व्यक्ति था जिसने खुद को और अपनी कविता को उम्र के साथ शानदार ढंग से पॉलिश किया।”

आधी दुनिया इंदौरी के ड्रेसिंग सेंस से खफ़ा थी, उसकी स्टेज डिलीवरी और फ़्लेयर, बाराबंकी ने नोट किया। उन्होंने कहा, “ऐसे कई लोग हैं जो ग़ज़ल और उनकी शायरी देने की अपनी असाधारण शैली की नकल करने की कोशिश करते हैं। वह बहुत सीधे और समझदार थे। पिछले 4-5 सालों में, कई प्रमुख राजनेताओं ने संसद के अंदर अपनी प्रसिद्ध पंक्तियों का पाठ किया।” “वह भारत का गौरव थे जो विदेशों में समान रूप से लोकप्रिय थे।”

जो इस दुनिया में आया है उसे छोड़ना चाहिए; इंदौरी जैसे लोग छोड़ देते हैं, लेकिन चमक को अपने साथ ले जाते हैं, उर्दू कवि मंसूर उस्मानी ने News18 से कहा। “वे हमें तुरंत नहीं भूल सकते क्योंकि हम उन्हें और उनकी कविता को बहुत लंबे समय तक याद रखेंगे। उनकी कविता का रंग हम सभी को बहुत याद आएगा। यह साहित्य और सामाजिक क्षेत्र के लिए एक बहुत बड़ी क्षति है। उन्होंने लगभग 20-25 साल पहले ‘केसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है (भारत किसी का पिता नहीं है)’ नाम से अपनी प्रसिद्ध पंक्तियों को पहली बार सुनाया था और लोगों ने अक्सर इसे एक निश्चित पार्टी या राजनीतिज्ञ के उद्देश्य से माना था। उस्मानी ने कहा कि इन पंक्तियों के माध्यम से राजनेताओं को आगाह किया कि कोई भी सत्ता में स्थायी नहीं है और सभी को निष्पक्ष रहने और सभी के कल्याण के बारे में सोचने की जरूरत है।